बांग्लादेशी खिलाड़ी की परेशानी बढ़ी, सट्टेबाजी ऐप में बहन का नाम आया सामने

0
8
Shakib Al Hasan
AsportsN। Image Credit: Social Media

पिछले कुछ समय से महादेव बैटिंग ऐप में कई खिलाड़ियों और अभिनेताओं के नाम सामने आ रहे थे। अब इस लिस्ट में बांग्लादेश के दिग्गज पूर्व कप्तान साकिब हाल हसन की बहन का नाम भी जुड़ गया है। ईडी ने इस मामले में गिरीश तलरेजा और सूरज चौखानी को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद पूछताछ के दौरान पता चला कि गिरीश तलरेजा और सूरज चौखानी महादेव ऐप के प्रमोटर हरि शंकर टिबरेवाल के बहुत करीबी हैं।

जब ईडी ने इन दोनों आरोपियों से सख्ती से पूछताछ की, तो इसमें शकिब हाल की बहन का नाम सामने आया। यह नाम ईडी के लिए काफी चौंकाने वाला था क्योंकि शकिब हसन लंबे समय से भारत में काफी क्रिकेट खेल चुके हैं। वह हाल ही में भारत में आयोजित एकदिवसीय विश्व कप 2023 में बांग्लादेश के कप्तान भी थे।

शकिब अल हसन पहले भी फंस चुके हैं।

पूछताछ के दौरान महादेव ऐप के प्रमोटर हरिशंकर टिबरेवाल के करीबी सहयोगियों गिरीश तलरेजा और सूरज चौखानी ने बताया कि उन्होंने बांग्लादेश में 11wicket.com नाम के एक ऐप में निवेश किया था। दोनों ने ईडी को बताया कि शकिब हाल हसन की बहन जनतुल हसन 11wicket.com नाम के ऐप में एसोसिएट है, जिसमें उन्होंने निवेश किया था। सट्टेबाजी में बांग्लादेशी क्रिकेटर साकिब हल हसन की बहन का नाम सामने आने के बाद उनकी समस्याएं बढ़ती नजर आ रही हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले भी सट्टेबाजी में शकिब हाल हसन का नाम सामने आ चुका है। इस वजह से 2019 वनडे वर्ल्ड कप के दौरान शकिब हसन को बैन कर दिया गया था। शकिब पर विश्व कप के दौरान सट्टेबाजों द्वारा संपर्क किए जाने का आरोप लगाया गया था, लेकिन उन्होंने इस बारे में आईसीसी अधिकारियों को सूचित नहीं किया।

बांग्लादेश की कप्तानी संभाली है

बांग्लादेश के लिए लंबे समय से क्रिकेट खेल रहे हैं शकीब हाल हसन उन्होंने बांग्लादेश के लिए 66 टेस्ट मैच, 247 वनडे और 117 अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच खेले हैं। इसके अलावा वह बांग्लादेश टीम के कप्तान भी रह चुके हैं। आईपीएल में अभी तक 71 मैच खेल चुके हैं। जिसमें उन्होंने 63 विकेट और 793 रन बनाए। 2012 और 2014 में कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा थे जब केकेआर ने खिताब जीता था।

Radhika Sharma
मैंराधिका शर्मा पिछले 6 साल से जर्नलिज्म की दुनिया से जुड़ी हूं, खासकर डिजिटल जर्नलिज्म से... ऑनलाइन कंटेंट, CMS-SEO के कंसेप्ट की अच्छी नॉलेज रखती हूं। अब तक के करियर में मैंने प्रोफेशनली और पर्सनली बहुत कुछ सीखा है। हर बीट से जुड़े कंटेट पर काम किया है। Asportsn में आने से पहले मैं दैनिक भास्कर और अमर उजाला के डिजिटल विंग में सेवाएं दे चुकी हूं और आगे भी सफर जारी है, जारी रहेगा...