रणजी ट्रॉफी पर टिप्पणी के लिए मनोज तिवारी के खिलाफ BCCI की कार्रवाई

0
3
manoj tiwary
AsportsN। Image Credit: Social Media

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अब टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी मनोज तिवारी के खिलाफ कार्रवाई की है। दरअसल, कुछ दिन पहले मनोज तिवारी ने रणजी ट्रॉफी को रोकने की मांग की थी। आपको बता दें कि इन दिनों भारत में रणजी ट्रॉफी भी खेली जा रही है। मनोज तिवारी रणजी ट्रॉफी में बंगाल टीम के कप्तान हैं। सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए मनोज तिवारी रणजी ने बीसीसीआई से रणजी ट्रॉफी को रोकने का आग्रह किया था। मनोज तिवारी के अनुसार, रणजी ट्रॉफी का क्रेज लगातार कम हो रहा है और इस टूर्नामेंट में काफी सुधार करने की जरूरत है।

बीसीसीआई ने मनोज तिवारी पर लगाया जुर्माना

बंगाल टीम के कप्तान मनोज तिवारी को रणजी ट्रॉफी के संबंध में सोशल मीडिया पर पोस्ट साझा करने में मुश्किल हुई है। अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मनोज तिवारी पर मैच फीस का 20 प्रतिशत जुर्माना लगाया है। हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, मनोज तिवारी ने खुद बीसीसीआई द्वारा लगाए गए जुर्माने का खुलासा किया है। इससे पहले मनोज तिवारी ने एक्स पर एक पोस्ट शेयर किया था और लिखा था कि रणजी ट्रॉफी को अगले सीजन से रोक दिया जाना चाहिए। रणजी में बहुत सी चीजें गलत हो रही हैं जिनमें बहुत सुधार की जरूरत है। रणजी ट्रॉफी की चमक भी फीकी पड़ रही है, जिससे मैं निराश हूं।

मनोज तिवारी ने आईपीएल पर भी बात की

इतना ही नहीं, मनोज तिवारी ने रणजी ट्रॉफी की गिरावट और आईपीएल के बढ़ते क्रेज के बारे में कहा कि उनकी आलोचना ने इस निर्देश को प्रभावित किया होगा, जिसका उद्देश्य ईशान किशन जैसे खिलाड़ियों पर दबाव बनाना है, जो रणजी ट्रॉफी में भागीदारी से ज्यादा आईपीएल को प्राथमिकता देते हैं। .. मनोज तिवारी का मानना है कि आजकल युवा खिलाड़ी प्रथम श्रेणी क्रिकेट की तुलना में छोटे प्रारूप के टूर्नामेंटों को अधिक प्राथमिकता दे रहे हैं। जिससे बल्लेबाजों की तकनीक भी प्रभावित होती है।

Rahul Singh
मैं asportsn News Media का पार्ट टाइम कंटेंट राइटर हूँ, मुझे वेबसाइट पर कंटेंट लिखना बहुत पसंद है। अगर आप भी इस वेबसाइट में कंटेंट राइटिंग करना चाहते है जो एक बार जरूर इनके टीम से बात करें। मैं एक SEO Expert हूँ। मैं MSc का पढ़ाई किया हूँ।