वापसी के लिए तैयार हैं ‘उड़ानपरी’ हिमा दास, नाडा से मिली खुशखबरी

0
479

भारत की स्टार धाविका हिमा दास वापसी करने के लिए तैयार हैं। रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के अनुशासनात्मक पैनल ने उन्हें हरी झंडी दे दी है। हिमा दास के मामले में सुनवाई पिछले महीने हुई थी। हिमा अब मंगलवार को बेंगलुरु में होने वाले इंडियन ग्रां प्री-1 में वापसी करेंगी।

पिछले साल निलंबित किया गया था

उड़ानपरी के नाम से मशहूर हिमा दास को पिछले साल नाडा ने अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया था। 12 महीनों के भीतर तीन विफलताओं के कारण उनके खिलाफ यह कार्रवाई की गई थी। विश्व एथलेटिक्स डोपिंग रोधी नियमों के तहत, 12 महीने की अवधि के भीतर 3 विफलताएं डोपिंग रोधी नियमों का उल्लंघन हैं। वियरअबाउट फेलियर एक परीक्षण से चूकने या एथलीट की ओर से जानकारी प्रदान नहीं करने को संदर्भित करता है।

इस साल की शुरुआत में चोट से जूझना पड़ा

असम की धाविका हिमा दास को इस साल की शुरुआत में चोट लगी थी। पिछले साल उन्हें हांगझोउ एशियाई खेलों के लिए टीम में शामिल नहीं किया गया था। रिपोर्टों के अनुसार, पिछले महीने मामले की सुनवाई कर रहे नाडा डोपिंग रोधी अनुशासनात्मक पैनल ने उन्हें हरी झंडी दे दी थी। हिमा ने 2018 में जकार्ता एशियाई खेलों में रजत पदक जीता था। वह स्वर्ण और रजत जीतने वाली महिला टीम का भी हिस्सा थीं।

पिछले साल स्वर्ण पदक जीता था

हिमा दास इससे पहले इंडियन ग्रां प्री में शानदार प्रदर्शन कर चुकी हैं। उन्होंने पिछले साल अप्रैल में स्वर्ण पदक जीता था। जहां उन्होंने 23.77 सेकंड के समय के साथ 200 मीटर की दौड़ में शानदार प्रदर्शन किया। इसके बाद वह पिछले साल पूरे सीजन से बाहर रहीं। हालांकि, यह पता नहीं चल सका कि हिमा परीक्षा से चूक गई थी या फाइलिंग में फेल हो गई थी।