IPL 2024: आईपीएल में पहली बार लागू होगा ये खास नियम, गेंदबाजों का बल्ले से खेलना होगा आसान

0
492

आईपीएल का 17वां सीजन शुरू होने जा रहा है। यह शुक्रवार 22 मार्च से शुरू होगा। इसे लेकर फैंस में खासा उत्साह है। इस खेल के रोमांच को और बढ़ाने के लिए आने वाले सीजन में एक नया नियम भी देखने को मिलेगा। अपने 17 साल के इतिहास में पहली बार यह विशेष नियम आईपीएल में लागू किया जाएगा। इसके कारण गेंदबाजों को परेशानी होगी। यह विशेष नियम हाल ही में बी. सी. सी. आई. द्वारा सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में लागू किया गया था। अब पहली बार इसका इस्तेमाल आईपीएल में भी किया जाएगा।

यह नया नियम क्या है?

आपको बता दें कि आम तौर पर T20 क्रिकेट में, एक ओवर में दो बाउंसर कंधे के ऊपर की गेंदें मान्य नहीं हैं। दूसरी गेंद को अंपायर द्वारा एक रन दिया जाता है और इसे एक अतिरिक्त गेंद कहा जाता है। लेकिन एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट में दो बाउंसर स्वीकार्य हैं। अब आईपीएल में भी पहली बार आने वाले सीजन में एक ओवर में दो बाउंसर लगाने की अनुमति होगी। इस नए नियम से गेंदबाजों को काफी फायदा हो सकता है। टी20 क्रिकेट में, हर गेंद मायने रखती है और ऐसी स्थिति में, एक पारी में अधिकतम 40 बाउंसर गेंदें बल्लेबाजों को परेशान कर सकती हैं।

बीसीसीआई ने नहीं किया आईसीसी के नियमों का पालन

टी20 क्रिकेट में एक ओवर में दो बाउंसर के नियम को हाल ही में बी. सी. सी. आई. द्वारा मान्य किया गया था। इसका उपयोग सैयद मुश्ताक अल्गी ट्रॉफी में किया गया था। अब बोर्ड ने इस नियम को आईपीएल में भी लागू करने का फैसला किया है। जबकि टी20 अंतर्राष्ट्रीय में, एक ओवर में केवल एक बाउंसर गेंद मान्य होती है। इसके साथ ही, बी. सी. सी. आई. ने हाल ही में आई. सी. सी. द्वारा बदले गए स्टंपिंग और कैचिंग के लिए डी. आर. एस. के अलग उपयोग के नियम को स्वीकार नहीं किया है।

बोर्ड के अनुसार, क्षेत्ररक्षण पक्ष के लिए स्टंपिंग से पहले कैच की जांच नहीं करना गलत होगा। जबकि आईसीसी ने कहा था कि अगर क्षेत्ररक्षण पक्ष ने स्टंपिंग के लिए अपील की है तो तीसरा अंपायर स्टंपिंग के लिए समीक्षा करेगा। टीम को कैच की जांच के लिए डीआरएस लेना होगा। लेकिन बीसीसीआई आगामी आईपीएल सत्र में इस नियम को लागू नहीं करेगा। इसके अलावा, हाल ही में पेश किया गया स्टॉप क्लॉक नियम भी आईपीएल में नहीं देखा जाएगा। इसके अलावा अगर रेफरल की बात करें तो हर टीम के पास एक पारी में दो रेफरल होंगे। रेफरल को पिछले सीजन की तरह वाइड और नो बॉल पर भी लिया जा सकता है।

Radhika Sharma
मैंराधिका शर्मा पिछले 6 साल से जर्नलिज्म की दुनिया से जुड़ी हूं, खासकर डिजिटल जर्नलिज्म से... ऑनलाइन कंटेंट, CMS-SEO के कंसेप्ट की अच्छी नॉलेज रखती हूं। अब तक के करियर में मैंने प्रोफेशनली और पर्सनली बहुत कुछ सीखा है। हर बीट से जुड़े कंटेट पर काम किया है। Asportsn में आने से पहले मैं दैनिक भास्कर और अमर उजाला के डिजिटल विंग में सेवाएं दे चुकी हूं और आगे भी सफर जारी है, जारी रहेगा...