केएल राहुल आउट… युवा खिलाड़ियों के लिए मौका, टीम इंडिया की टीम के बारे में 5 बड़ी बातें

0
678

टी-20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया है। बी. सी. सी. आई. द्वारा मंगलवार को घोषित टीम में 15 खिलाड़ी और 4 रिजर्व खिलाड़ी शामिल हैं। टीम की कमान रोहित शर्मा के हाथों में होगी, जबकि हार्दिक पांड्या उप-कप्तान की जिम्मेदारी निभाएंगे। टीम इंडिया की टीम में 15 खिलाड़ियों में 4 ऑलराउंडर और 5 गेंदबाज शामिल हैं। टीम की खास बात यह है कि केएल राहुल को बाहर कर दिया गया है। इसके साथ ही कुछ युवा खिलाड़ियों को मौका दिया गया है। आइए जानते हैं टीम इंडिया की 5 बड़ी बातें…

केएल राहुल आउट

टीम इंडिया की सबसे बड़ी बात केएल राहुल का बाहर होना है। ऋषभ पंत और संजू सैमसन को विकेटकीपर के रूप में जगह दी गई है। यह संभवतः पहली बार होगा जब केएल राहुल बड़े मंच पर प्रदर्शन नहीं करेंगे। उन्हें पिछले विश्व कप में शामिल किया गया था। खास बात यह है कि वह इन दिनों शानदार फॉर्म में भी हैं। केएल ने 9 मैचों में 42.00 की औसत से 378 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 144.27 है।

उन्होंने 3 अर्धशतक भी लगाए हैं। केएल विकेटकीपर की दौड़ में थे, लेकिन संजू सैमसन और ऋषभ पंत, जो शानदार फॉर्म में थे, मैच जीत गए। दिनेश कार्तिक को भी विकेटकीपर के रूप में बाहर रखा गया है। 38 वर्षीय दिनेश कार्तिक ने इस आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है, हालांकि विश्व कप में उनका प्रदर्शन बहुत खराब रहा है। शायद इसी वजह से उन्हें मौका नहीं दिया गया है। आपको बता दें कि कार्तिक ने आईपीएल के बाद संन्यास लेने की बात कही है। हाल ही में उन्होंने विश्व कप खेलने की इच्छा भी व्यक्त की थी, लेकिन अब उनकी इच्छा अधूरी है।

शिवम दुबे को मिला मौका

शिवम दुबे को ऑलराउंडर के रूप में मौका दिया गया है। उनका नाम लंबे समय से चर्चा में था। शिवम ने इस आईपीएल सीजन में अपनी बल्लेबाजी से काफी शोर मचाया है। आईपीएल के 9 मैचों में उन्होंने 58.33 की औसत और 172.41 के स्ट्राइक रेट से 350 रन बनाए हैं। जिसमें 3 अर्धशतक शामिल हैं। बाएँ हाथ के बल्लेबाज और दाएँ हाथ के गेंदबाज। नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ पदार्पण करने वाले दुबे ने अब तक 21 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 39.42 की औसत से 276 रन बनाए हैं। जबकि गेंदबाजी में उन्होंने 8 विकेट लिए हैं। दुबे की हार्ड-हिटिंग क्षमता और मध्य क्रम में उत्कृष्ट बल्लेबाजी भारत के लिए एक ट्रम्प कार्ड साबित हो सकती है।

हार्दिक पांड्या की जिम्मेदारी

हार्दिक पांड्या पिछले कुछ समय से अपने प्रदर्शन के लिए आलोचकों का निशाना बने हुए हैं। हालांकि, इसके बावजूद उन्हें न केवल टीम में शामिल किया गया है, बल्कि उप-कप्तान की तरह एक बड़ी जिम्मेदारी भी दी गई है। पांड्या ने आईपीएल में अब तक 9 मैचों में 24.63 की औसत से 197 रन बनाए हैं। जबकि गेंदबाजी में उन्होंने 9 मैचों में 4 विकेट लिए हैं। रोहित के डिप्टी के रूप में, हार्दिक के पास बड़ी जिम्मेदारी होगी।

गेंदबाजी में कुलचा की जोड़ी

गेंदबाजी में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी को शामिल किया गया है। कुलचा के नाम से लोकप्रिय इस जोड़ी ने अब तक किसी भी बड़े मंच पर शानदार प्रदर्शन किया है। दोनों ही यूएसए और वेस्ट इंडीज की पिचों पर प्रभावी साबित हो सकते हैं। दोनों गेंदबाज आईपीएल में भी शानदार फॉर्म में हैं। तीन तेज गेंदबाजों में अर्शदीप सिंह, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज शामिल हैं।

युवा खिलाड़ियों को मिलेगा मौका

नए और युवा खिलाड़ियों को रिजर्व में मौका दिया गया है। इसमें यशस्वी जयस्वाल का नाम शामिल है। वह रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। हालांकि, रिंकू सिंह 15 खिलाड़ियों में से एक स्थान से चूक गए। उन्हें रिजर्व में रखा गया है। रिजर्व खिलाड़ियों में रिंकू सिंह, आवेश खान और खलील अहमद पर भरोसा जताया गया है। 2018 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 में पदार्पण करने वाले खलील अहमद ने अब तक 14 मैचों में 13 विकेट लिए हैं। हालाँकि, रिंकू ने इस आईपीएल में कम रन बनाए हैं। रिंकू ने 9 मैचों में 20.50 की औसत से 123 रन बनाए हैं, लेकिन रिंकू सिंह ने खुद को एक उत्कृष्ट फिनिशर के रूप में साबित किया है। रिजर्व को किसी खिलाड़ी को चोट लगने या विशेष परिस्थितियों में मौका दिया जाता है।