टीम इंडिया राजकोट टेस्ट के तीसरे दिन काली पट्टी पहनकर बाहर आई, काली पट्टी के पीछे क्या है वजह?

0
24
Black Band
AsportsN। Image Credit: Social Media

भारत और इंग्लैंड के बीच राजकोट में टेस्ट मैच खेला जा रहा है। इस मैच के तीसरे दिन का खेल शुरू हो गया है। राजकोट टेस्ट के दौरान भारतीय टीम को रविचंद्रन अश्विन के रूप में बड़ा झटका लगा था। अश्विन को मेडिकल इमरजेंसी के कारण पूरी श्रृंखला से बाहर होना पड़ा। इस कड़ी में खबर आ रही है कि राजकोट टेस्ट मैच के तीसरे दिन भारतीय खिलाड़ी हाथों पर काली पट्टी बांधकर खेलने आए हैं। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि इस काली पट्टी के पीछे क्या राज है। आइए आपको बताते हैं इसके पीछे की वजह।

हाथ पर काली पट्टी बंधी हुई

राजकोट टेस्ट मैच में किसका दबदबा है, यह कहना जल्दबाजी होगी। इस मैच के पहले दिन तक ऐसा लग रहा था कि भारत आसानी से यह मैच जीत जाएगा, उसके बाद दूसरे दिन का खेल शुरू होने के बाद ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड ने मैच को भारत की तरफ से अपने पक्ष में खींच लिया। Is. अब तीसरे दिन का खेल खेला जा रहा है। आज भारतीय खिलाड़ी हाथों में काली पट्टी बांधकर खेलने के लिए मैदान पर आए हैं।

काली पट्टी का कारण

उल्लेखनीय है कि हाल ही में भारत के सबसे उम्रदराज टेस्ट खिलाड़ी दत्ताजीराव गायकवाड़ का निधन हो गया। दत्ताजीराव भारत के कप्तान भी रहे थे, उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा। इसी वजह से आज भारत के सभी खिलाड़ी उनके सम्मान में बांह पर काली पट्टी बांधकर खेलते नजर आएंगे।

श्रृंखला बराबरी पर है

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज अभी भी ड्रॉ पर चल रही है। भारत और इंग्लैंड दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीता है। सबसे पहले इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ श्रृंखला का पहला मैच जीता था। इंग्लैंड ने जीत के साथ श्रृंखला की शुरुआत की। इसके बाद ऐसा लग रहा था कि भारतीय टीम के लिए यह मुश्किल होने वाला था, लेकिन अगले ही मैच में भारत ने भी शानदार वापसी की और विशाखापत्तनम में खेला गया टेस्ट मैच जीत लिया।

जल्द होगी प्रतिस्थापन की घोषणा

राजकोट टेस्ट के दौरान भारतीय टीम को बड़ा झटका लगा है। भारत के ऑलराउंडर रविचंद्रन अश्विन तीसरे टेस्ट के दौरान पूरी श्रृंखला से बाहर हो गए हैं। अश्विन राजकोट टेस्ट के दूसरे दिन खेलने के बाद बाहर हो गए हैं। अब यह देखना बाकी है कि अश्विन के स्थान पर किस खिलाड़ी को टीम में शामिल किया जा सकता है।