चौथे टेस्ट में होंगे ये ‘3 बदलाव’, कप्तान रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ का बढ़ा तनाव

0
3
cricket new rule 1
AsportsN। Image Credit: Social Media

विशाखापत्तनम और राजकोट टेस्ट जीतने के बाद भारतीय टीम का अगला लक्ष्य रांची टेस्ट जीतकर सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त हासिल करना होगा। भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ के सामने सबसे बड़ी समस्या यह है कि चौथे टेस्ट में किस खिलाड़ी को बाहर किया जाना चाहिए और किस खिलाड़ी को शामिल किया जाना चाहिए। दरअसल ऐसी खबरें हैं कि चौथे टेस्ट में जसप्रीत बुमराह को आराम दिया जा सकता है।

KL राहुल के चौथे टेस्ट में वापसी करने की उम्मीद होगी, लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या भारतीय टीम 4 स्पिन गेंदबाजों के साथ रांची स्टेडियम जाएगी या एक बार फिर टीम इंडिया 2 तेज गेंदबाजों पर अधिक निर्भर करेगी। आइए हम आपको रांची टेस्ट से पहले कप्तान रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ की बढ़ती समस्याओं के बारे में बताते हैं।

केएल राहुल की हो सकती है वापसी

भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन केएल राहुल ने बनाए। लेकिन उन्हें जांघ की मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या का सामना करना पड़ा। जिसके कारण वह दूसरे और तीसरे टेस्ट में नहीं खेल सके। हालांकि, राजकोट टेस्ट की शुरुआत से पहले बीसीसीआई ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा था कि केएल राहुल 90 प्रतिशत फिट हैं। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि वह रांची टेस्ट में वापसी कर सकते हैं। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि केएल राहुल की वापसी के बाद किस बल्लेबाज को बाहर किया जाएगा। उम्मीद की जा रही है कि अगर केएल राहुल चौथे टेस्ट में वापसी करते हैं तो रजत पटिदार को बेंच पर बैठना होगा। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण पाटिदार का खराब रूप है। विशाखापत्तनम टेस्ट में पदार्पण करने वाले रजत पटिदार ने अब तक खेली गई चार पारियों में कोई बड़ा स्कोर नहीं बनाया है। जिसके बाद यह निश्चित माना जाता है कि वह बाहर बैठेगा।

बुमराह की जगह कौन लेगा?

केएल राहुल की वापसी के बाद दूसरा सवाल यह है कि अगर चौथे टेस्ट में जसप्रीत बुमराह को आराम दिया जाता है तो उनकी जगह कौन से गेंदबाज टीम में शामिल होंगे। दरअसल, ऐसी खबरें हैं कि टीम प्रबंधन बुमराह को उनके भारी कार्यभार के कारण चौथे टेस्ट में आराम दे सकता है। बुमराह श्रृंखला में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज भी हैं।

बुमराह विशाखापत्तनम टेस्ट में जीत के नायक थे। ऐसे में अगर टीम मैनेजमेंट ने उन्हें आराम दिया तो उनकी जगह कौन लेगा? सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या रांची टेस्ट में बुमराह के स्थान पर आकाश दीप को प्लेइंग 11 में शामिल किया जाएगा या टीम प्रबंधन मुकेश कुमार के अनुभव के साथ आगे बढ़ेगा।

अक्षर वापस आ जाएगा!

अगर बात करें रांची स्टेडियम की पिच की तो इससे ज्यादातर स्पिन गेंदबाजों को मदद मिलती है। हालाँकि, यहाँ बल्लेबाज भी बहुत रन बनाने में सफल होते हैं। ऐसे में क्या कप्तान रोहित शर्मा 23 फरवरी से शुरू होने वाले रांची टेस्ट में 4 स्पिनरों पर दांव लगाएंगे? अगर ऐसा होता है तो अक्षर पटेल टीम में वापसी कर सकते हैं। इसके बाद रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और कुलदीप यादव की स्पिन तिकड़ी के साथ अक्षर पटेल भी रांची टेस्ट में उत्साह बढ़ाते नजर आएंगे। हालांकि, यह भी संभव है कि कप्तान रोहित एक बार फिर 3 स्पिनरों और 2 सीम गेंदबाजों के साथ जाना पसंद करें। इसका जवाब मैच टॉस के समय ही पता चलेगा कि टीम प्रबंधन 4 स्पिनरों के साथ खेलता है या 2 सीम गेंदबाजों के साथ।

Radhika Sharma
मैंराधिका शर्मा पिछले 6 साल से जर्नलिज्म की दुनिया से जुड़ी हूं, खासकर डिजिटल जर्नलिज्म से... ऑनलाइन कंटेंट, CMS-SEO के कंसेप्ट की अच्छी नॉलेज रखती हूं। अब तक के करियर में मैंने प्रोफेशनली और पर्सनली बहुत कुछ सीखा है। हर बीट से जुड़े कंटेट पर काम किया है। Asportsn में आने से पहले मैं दैनिक भास्कर और अमर उजाला के डिजिटल विंग में सेवाएं दे चुकी हूं और आगे भी सफर जारी है, जारी रहेगा...