धर्मशाला टेस्ट में उतर सकता है ये खतरनाक खिलाड़ी; इंग्लैंड पर खतरा मंडरा रहा है

0
4
धर्मशाला टेस्ट में उतर सकता है ये खतरनाक खिलाड़ी; इंग्लैंड पर खतरा मंडरा रहा है
AsportsN। Image Credit: Social Media

भारत बनाम इंग्लैंड 5वां टेस्ट: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज अपने आखिरी पड़ाव पर पहुंच गई है। सीरीज के पांच में से चार मैच पहले ही खेले जा चुके हैं और अंतिम टेस्ट धर्मशाला में खेला जाएगा। हालांकि बीच में बड़ा ब्रेक है इसलिए खिलाड़ी आराम भी कर रहे हैं। वहीं धर्मशाला टेस्ट के लिए सबसे खतरनाक खिलाड़ी दोबारा टीम इंडिया में शामिल हो सकता है। हम बात कर रहे हैं अंग्रेजों के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की।

रांची टेस्ट में बुमराह ने आराम लिया था

इंग्लैंड के खिलाफ जसप्रीत बुमराह खतरनाक गेंदबाजी कर रहे हैं। पहले से लेकर तीसरे टेस्ट तक उन्हें लगातार खेलते हुए देखा गया। उन्होंने कुल 18 विकेट हासिल किये और इंग्लैंड के बल्लेबाजों के लिए काफी परेशानी खड़ी की। इसके बाद, जब भारत ने पहले तीन टेस्ट मैचों में से दो जीतकर सीरीज़ में बढ़त हासिल कर ली, तो उन्हें चौथे के लिए आराम दिया गया। पहले माना जा रहा था कि अगर भारतीय टीम सीरीज जीतती है तो आखिरी मैच में बुमराह को आराम दिया जा सकता है। भारत ने सीरीज तो जीत ली है, लेकिन खबरें हैं कि अगले मैच में अभी भी जसप्रीत बुमराह खेलेंगे।

जसप्रीत ने हर मैच में विकेट लिए

श्रृंखला के पहले मुकाबले में बुमरा ने दो और चार विकेट लिए; बहरहाल, इस मैच में भारतीय टीम हार गई। इसके बाद दूसरे मैच में उन्होंने 6 और 3 विकेट लिए। इस मैच को जीतकर भारत ने सीरीज बराबर कर ली। इसके बाद तीसरे टेस्ट में उन्हें दोनों पारियों में एक-एक विकेट मिला। चौथे टेस्ट के दौरान उनकी जगह आकाश दीप को मौका दिया गया।

आखिरी टेस्ट में सिराज को मिल सकती है छूट

अब सवाल यह है कि बुमराह की वापसी के बाद किस गेंदबाज को बाहर किया जा सकता है। मोहम्मद सिराज ने भी अब तक चार में से तीन मैच खेले हैं। वह केवल विशाखापत्तनम टेस्ट में चूक गए, जिसके बाद उन्होंने लगातार दो मैच खेले। आईपीएल 22 मार्च से शुरू हो रहा है, ऐसे में सिराज को एक मैच के लिए आराम दिया जा सकता है और आकाश दीप बुमराह के साथ गेंदबाजी करेंगे। आकाश दीप ने एक मैच खेला और पहली पारी में तीन विकेट लिए, लेकिन दूसरी पारी में उन्हें गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिला। हालांकि, यह देखना होगा कि निकट भविष्य में भारतीय टीम प्रबंधन क्या फैसला लेता है।