यशस्वी जयस्वाल के शानदार प्रदर्शन ने गावस्कर और कोहली को पीछे छोड़ा, डॉन ब्रैडमैन के क्लब में शामिल हुए

0
2
India Vs England Yashasvi Jaiswal
AsportsN। Image Credit: Social Media

भारतीय टीम के युवा सलामी बल्लेबाज यशस्वी जयस्वाल ने धर्मशाला टेस्ट की पहली पारी में 58 गेंदों पर 57 रनों की शानदार पारी खेली। उन्होंने रोहित शर्मा के साथ पहले विकेट के लिए 104 रनों की साझेदारी की। हालांकि, वह अपनी पारी को एक बड़ी पारी में नहीं बदल सके और ऑफ स्पिनर शोएब बशीर की गेंद पर एक बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करते हुए स्टंप हो गए। इंग्लैंड के खिलाफ अर्धशतक बनाने के बाद यशस्वी जयस्वाल ने अपने नाम कई रिकॉर्ड बनाए। उन्होंने ऐसा रिकॉर्ड बनाया कि अब वे दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन के क्लब में शामिल हो गए हैं।

सबसे तेज टेस्ट में 1000 रन पूरे करने वाले पांचवें बल्लेबाज

तब से यशस्वी जयस्वाल ने भारतीय टीम में पदार्पण किया। तब से वह एक के बाद एक शतक लगा रहे हैं। जयस्वाल टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 1000 रन पूरे करने वाले दुनिया के पांचवें खिलाड़ी बन गए हैं। दरअसल यशस्वी जयस्वाल ने 9 टेस्ट मैचों में 1000 रन पूरे कर लिए हैं। जबकि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन को 1000 रन पूरे करने के लिए 7 टेस्ट मैच खेलने थे।

हालांकि, वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज एवर्टन वीक्स, इंग्लैंड के हर्बर्ट सटक्लिफ और वेस्टइंडीज के जॉर्ज हैडली को टेस्ट में 1000 रन पूरे करने के लिए 9 टेस्ट मैच खेलने पड़े। अब इन महान खिलाड़ियों की सूची में यशस्वी जयस्वाल ने भी अपना नाम दर्ज कराया है। आपको बता दें कि इससे पहले सुनील गावस्कर और चेतेश्वर पुजारा का नाम भी इस रिकॉर्ड लिस्ट में शामिल था, उन्होंने 11 टेस्ट में 1000 रन पूरे किए थे।

सबसे कम पारियों में 1000 रन पूरे करने वाले दूसरे बल्लेबाज

यशस्वी जयस्वाल टेस्ट में सबसे कम पारियों में 1000 रन पूरे करने वाले भारत के दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने 9 टेस्ट मैचों की 16 पारियों में भारत के लिए 1000 रन पूरे किए हैं। जबकि विनोद कांबली इस सूची में शीर्ष स्थान पर हैं। उन्होंने भारत के लिए सिर्फ 14 पारियों में 1000 रन पूरे किए थे। इस सूची में तीसरे स्थान पर चेतेश्वर पुजारा हैं, जिन्होंने 16 पारियों में 1000 रन का आंकड़ा छुआ। जबकि मयंक अग्रवाल (19 पारियां) चौथे और सुनील गावस्कर (21 पारियां) पांचवें स्थान पर हैं।

कम उम्र में टेस्ट में 1000 रन बनाने वाले चौथे बल्लेबाज

धर्मशाला टेस्ट की पहली पारी में 1000 रन के साथ, यशस्वी जायसवाल टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम उम्र में 1000 रन बनाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए। यशस्वी जयस्वाल ने 22 साल और 70 दिन की उम्र में 1 हजार रन पूरे कर लिए हैं। जबकि सचिन तेंदुलकर इस सूची में पहले स्थान पर हैं, जिन्होंने 19 साल 217 दिन की उम्र में भारत के लिए 1000 हजार रन पूरे किए थे। जबकि दूसरे स्थान पर विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव हैं, जिन्होंने 21 साल और 27 दिन की उम्र में यह आंकड़ा पार किया। जबकि भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने 21 साल और 197 दिन की उम्र में टेस्ट में 1000 रन पूरे किए थे। अब इस सूची में यशस्वी जयस्वाल चौथे स्थान पर पहुंच गए हैं।

विराट कोहली को भी पीछे छोड़ा

यशस्वी जयस्वाल ने विराट कोहली का एक खास रिकॉर्ड भी तोड़ा है। यशस्वी जयस्वाल अब भारत के लिए टेस्ट श्रृंखला में सबसे अधिक रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। जयस्वाल से पहले विराट कोहली दूसरे स्थान पर थे। उन्होंने 2014/15 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 692 रन बनाए थे। जबकि यशस्वी जयस्वाल ने अब तक 712 रन बनाए हैं। इस सूची में सुनील गावस्कर पहले स्थान पर हैं।

उन्होंने 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में 774 रन और 1978/79 में उसी टीम के खिलाफ 732 रन बनाने का विशेष रिकॉर्ड बनाया। 53 वर्षों में कोई भी भारतीय बल्लेबाज इस रिकॉर्ड को नहीं तोड़ पाया है। हालांकि, यशस्वी जयस्वाल के पास इस रिकॉर्ड को तोड़ने का सुनहरा मौका है। जबकि धर्मशाला टेस्ट में उनकी एक पारी बाकी है।

Nitesh Srivastav
नितेश श्रीवास्तव asportsn वेबसाइट में सीनियर सब-एडिटर के पद पर कार्यरत हैं। मूलत:छत्तीसगढ़ के गौरेला पेंड्रा मरवाही के निवासी हैं। इन्होंने अपने करियर की शुरुआत साल 2021 में वेब मीडिया से की थी। अपने करियर में लगभग सभी विषयों (राजनीति, खेल, क्राइम, देश-विदेश, लाइफस्टाइल, हेल्थ) आदि पर रिपोर्टिंग का अनुभव है, साथ ही एडिटिंग का कार्य कर चुके हैं। नितेश श्रीवास्तव की खेल राजनीति और हेल्थ विषय पर शानदार पकड़ है।