news

बीसीसीआई ने स्वीकार किया गौतम गंभीर का बड़ा दांव यह पद अब खाली हो सकता है।

गौतम गंभीर को भारतीय क्रिकेट टीम का नया कोच नियुक्त किया गया है। आए दिन नई-नई बातें सामने आ रही हैं। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर भारतीय क्रिकेट टीम के नए मुख्य कोच बनने के लिए तैयार हैं। जिसके बाद प्रशंसकों के मन में सवाल उठ रहा है कि बीसीसीआई इतनी देरी क्यों कर रहा है?

वहीं, जब बीसीसीआई ने गंभीर का इंटरव्यू लिया तो पूर्व क्रिकेटर ने बोर्ड के सामने अपनी कुछ शर्तें रखी थीं, जिस पर एक बड़ा अपडेट सामने आया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीसीसीआई ने गंभीर की एक बड़ी शर्त को स्वीकार कर लिया है। जिसके बाद अब कोचिंग स्टाफ में एक पद खाली रह सकता है।

बल्लेबाजी कोच का पद बना रह सकता है भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गौतम गंभीर को अपना कोचिंग स्टाफ चुनने के लिए खुली छूट दी है। यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि कोई बल्लेबाजी कोच होगा या नहीं क्योंकि गंभीर खुद एक सफल सलामी बल्लेबाज थे। अगर ऐसा होता है तो कोचिंग स्टाफ में कोई बल्लेबाजी कोच नहीं होगा, लेकिन गौतम गंभीर खुद बल्लेबाजों को कोचिंग देंगे।

कोच की नियुक्ति में देरी क्यों?

राहुल द्रविड़ का कार्यकाल टी20 विश्व कप 2024 के बाद से समाप्त हो गया है। अब टीम इंडिया को नया मुख्य कोच मिलने वाला है। हालांकि, गंभीर आईपीएल 2024 के बाद से बीसीसीआई की पहली पसंद बने हुए हैं। रिपोर्टों के अनुसार, मुख्य कोच के रूप में गंभीर की नियुक्ति में देरी उनके वेतन के कारण हुई है। फिलहाल बीसीसीआई गंभीर के वेतन पर चर्चा कर रहा है। गंभीर को पूर्व कोच राहुल द्रविड़ से अधिक वेतन मिलने की उम्मीद है। राहुल द्रविड़ का सालाना पैकेज 12 करोड़ रुपये का था।

'आज जो गाली दे रहे हैं... ईशान किशन ने हार्दिक पांड्या के बारे में खोला राज
Back to top button