news

युवराज सिंह के शिष्य ने जड़ा शतक, गेंदबाजों में मचाई खलबली

भारतीय टीम को एक और बाएं हाथ का सलामी बल्लेबाज मिला है। अभिषेक शर्मा ने जिम्बाब्वे के खिलाफ दूसरे टी20 में भारत के लिए पारी की शुरुआत की। अभिषेक, जो पहले मैच में शून्य पर आउट हुए थे, दूसरे मैच में अलग दिख रहे थे। उन्होंने 46 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इस दौरान अभिषेक ने एक से दूसरे के लिए एक शानदार शॉट बनाया। उन्होंने कई छक्के लगाए। अभिषेक की पारी में 7 चौके और 8 छक्के शामिल थे। भारत ने यह मैच 100 रन से जीता था।

आपको खुद को व्यक्त करना होगा

अभिषेक शर्मा, प्लेयर ऑफ द मैचः कल की हार हमारे लिए बहुत मुश्किल थी। उस हार के बाद यह अच्छा प्रदर्शन था। क्योंकि हमारे पास ज्यादा समय नहीं था। आज जैसे ही मुझे समय मिला, मैंने इसका पूरा फायदा उठाया। टी20 में जिस लय की जरूरत है, उसे बनाए रखते हुए मैं खेल को अंत तक ले गया। आपको एक युवा खिलाड़ी के रूप में खुद को व्यक्त करना होगा।

भले ही यह पहली गेंद हो, मैं हिट करूंगा।

उन्होंने कहा, “हम हर ओवर के बाद बात कर रहे थे। रुतुराज ने मुझसे कहा कि तुम्हें जिम्मेदारी लेनी चाहिए। अभिषेक ने कहा, “मुझे हमेशा अपनी हिट करने की क्षमता पर पूरा भरोसा रहा है। अगर गेंद मेरी सीमा में है और भले ही वह पहली गेंद हो, मैं उसे मार दूंगा। अभिषेक ने इस बयान के साथ स्पष्ट कर दिया है कि वह पहले ओवर से ही इसी तरह बल्लेबाजी करना जारी रखेंगे। उनके बयान के बाद गेंदबाजों में डर पैदा हो जाएगा। आपको बता दें कि उन्होंने दूसरे टी20 में पहली गेंद पर छक्का लगाकर अपना खाता खोला था। अभिषेक ने उन पर विश्वास जताने के लिए अपने कोच और कप्तान को धन्यवाद दिया।

Anant Ambani Wedding : सचिन तेंदुलकर, केएल राहुल और ऋषभ पंत कार्यक्रम स्थल पर पहुंचते हैं

अभिषेक शर्मा युवराज सिंह के शिष्य हैं।

अभिषेक शर्मा युवराज सिंह के शिष्य हैं। वह घरेलू क्रिकेट में पंजाब के लिए खेलते हैं। अभिषेक शर्मा युवी के मार्गदर्शन में एक आक्रामक बल्लेबाज बन गए हैं। वह भारत की 2018 अंडर-19 विश्व कप टीम का हिस्सा थे। वह आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते थे। उन्होंने 16 मैचों में 32.27 की औसत और 204.22 के स्ट्राइक रेट से 484 रन बनाए। पहले मैच में उनके शर्मनाक प्रदर्शन के बाद कई सवाल उठ रहे थे, अब उन्होंने दूसरे मैच में ही शतक लगा दिया है कि वह भविष्य में भी उसी लय में रहेंगे।

Back to top button